बीज प्यार के | Mandeep Panghal | Lyrics

अजय शेओरन और सेना जग्गा ने बीज प्यार के लेटेस्ट गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई हैं। गीत में आवाज मंदीप पंघाल ने दी हैं। आदित्य रोहिल्ला निर्देशित गाने गाने का म्यूजिक पुरु बैंस व विनय ने कम्पोज किया हैं।

प्यार में धोखा मिलने पर प्रेमी अपनी प्रेमिका की यादो में रात दिन तड़प रहा हैं और प्रेमी से प्रेमिका प्रीत लगाकर उससे दूर चली गयी हैं। प्रेमी के इश्क़रोग की नाही कोई दवा और नाही उसे कोई वेद मिला हैं। प्रेमिका से मिलने के लिए वो हर वक्त उसका इंतजार करता रहता हैं की कब उसके जज्बातो को समझकर वो वापस उसके चली आये।

Beej Pyaar Ke Song Lyrics

दवा मिली ना वेद मिले मैंने सारे दर्द अवेद मिले
सारे जख्म नाशुरा ने तेरे भोलेपन ते धुन लाग रहया
कब आवेगी तू बनके बूँद पाणी की
बीज प्यार के जा महंगे जो तेरी खातिर मैं बोण लाग रहया

जानबूझकर करया नहीं मैंने होया सै अनजाने में
माँ बापू के सोचेंगे काम खा गया उलाहने में
बस ते बाहर बात गयी ना बैरा क्यों तेरा मैं होण लाग रहया
दवा मिली ना वेद मिले मैंने सारे दर्द अवेद मिले

करके कदर जज्बाता की थोड़ा प्यार मैंने देदे ने
बात करे जो भीतर की ऐसा यार मैंने देदे ने
फिरे तड़पती रूह मेरी बैरा ना कद फेटेगा
घणे टेम ते टोन लाग रहया
दवा मिली ना वेद मिले मैंने सारे दर्द अवेद मिले

अन्य हरियान्वी गाने: