भाभी का महल | Anirudh Chochra | Lyrics

हरियान्वी एल्बम का भाभी का महल, जो की एक मजेदार सॉन्ग हैं, इसमे आवाज अनिरुद्ध चोचरा ने दी हैं। गाने के बोल पंडित मंगा राम ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक जी. आर म्यूजिक पानीपतने दिया हैं। अनिरुद्ध चोचरा, पूजा हुडा और काजल रानी ने इस गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई हैं।

गांव में नयी भाभी के तेवर देखकर देवर उसके आगे पीछे घूम रहा हैं और भाभी के महल में बार बार चला जाता हैं। उसका रूप गजब, तेवर सीधे साधे और उसकी चाल मस्तानी हैं। पुरे गांव में अब बस उसके ही चर्चे चल रहे हैं। अब उसके दीवाने छोटे से लेकर बड़ो तक में देखने को मिल रहे हैं।

Bhabhi Ka Mehal Song Lyrics

खोलके किवाड़ बडग्या भाभी जी के महल में
नया आधा सेल में
खोलके किवाड़ बडग्या भाभी जी के महल में

भाभी रूप गजब का गोला यो तेरा तेवर साधा भोला
हाय पंद्रह सोलह का रिवाड़ बडग्या भाभी जी के महल में
नया आधा सेल में
खोलके किवाड़ बडग्या भाभी जी के महल में

भाभी तर तर करती जणू कोई नागण साँस से भरती
धरती दे गई बवाण बडग्या भाभी जी के महल में
नया आधा सेल में
खोलके किवाड़ बडग्या भाभी जी के महल में

अन्य हरियान्वी गाने :