धारा 354 | Masoom Sharma | Lyrics

धारा 354 हरयान्वी गाना आरजू ढिल्लों और दीपक सैनी अभिनीत एक मजेदार वीडियो ट्रैक हैं। हरयान्वी एल्बम हिट्स का यह गाना मासूम शर्मा ने गाया हैं। इस लेटेस्ट गाने का म्यूज़िक जे.डी.एम स्टूडियो ने कंपोज किया व गाने के बोल एस.के जिंदवाल की क़लम से लिखे गये हैं।

प्रेमी अपनी प्रमिका को दिल दे बैठा हैं और अब उससे मिलाने के लिए तड़पा रहा हैं। ना मिलने पर वो प्रेमिका से केस करवा रहा और फिर कोर्ट में उसकी मुलाकात होगी। धारा 354 के तहत उसे हथकड़ी लगेगी और फिर प्रेमिका खड़ी खड़ी रोयेगी। गली गली में उसे ढूढते फिरेगी।

Dhaara 354 Song Lyrics

तू या मिलने आजा मैंने ना तो करदे केस रे
तने उड़े फेटूगा जब कोर्ट में होंगे पेस रे
तू या मिलने आजा मैंने ना तो करदे केस रे

फिर तेरी गवाही होवेगी फेर और मेरी पेसी लागेगी
करके दर्शन कोर्ट में या भूख मेरी भी भागेगी
मेरे गात में घी सा खल जा देखके तेरा फेस रे
तू या मिलने आजा मैंने ना तो करदे केस रे

मेरे 354 लागे धारा फेर से दामण होवेगी
देखके मेरे हाथ हथकड़ी खड़ी खड़ी तू रोवेगी
मैंने गाला के में टोवेगी जब दिल पे लागे केस रे
तू या मिलने आजा मैंने ना तो करदे केस रे

अन्य हरियान्वी गाने :