फिल्म लाइन | TR Panipat, Mahi Chouhan | Lyrics

टी.आर पानीपत और माही चौहान की आवाज़ में फिल्म लाइन हरियानवी गीत एन.डी.जे म्यूज़िक कंपनी में प्रस्तुत़ हुआ हैं। इस गीत के बोल बिट्टू लोहचब ने लिखे हैं और म्यूज़िक कंपोजिंग टी.आर व जी.आर ने की हैं। इस गाने में राहुल सहनपुरिया और आरोही नारा अहम किरदार में नज़र आएँगे।

सजनी की इच्छा फिल्म लाइन में जाने की हैं लेकिन वो खतों में जाके काली हो गयी हैं। साजन का रोजगार जंमीदारे का हैं और खेती बिन उसका गुजारा नहीं होता हैं।शादी से पहले साजन ठीक कमाता था लेकिन अब सजनी ए.सी की डिमांड कर रही हैं।

Film Line Song Lyrics

तू फिल्म लाइन में जाण की सोचे
जड़ में टी.वी धरके ने
मैं आप गढ़े में पड़ रह्या सु तेरे गढ़े भरके ने

करदे खुटा खाली रे मैंने बॉडी लोशन ल्यादे ने
मैं ना पाण भरोटे ल्याउ ए.सी कमरे में लगवादे

चाहाला कर दिया वरना मैं राडे ठीक कमा रह्या था
फेरे ते उठ जांदा ध्यान कड़े ने जार्या था
करलिया धक्का घरका ने मेरा मटना रगड़ रगड़ केने
मैं आप गढ़े में पड़ रह्या सु तेरे गढ़े भरके ने

मैं काली पड़ जाऊगी गेडे मारके खेता में
तू ना जाने जमींदारा रे सोना उगले रेता में
तेरी बेच के झोटा बूगी मैंने गाड़ी नयी दुवा दे ने
मैं ना पाण भरोटे ल्याउ ए.सी कमरे में लगवादे

जमींदार का रोजगार हो खेती बिना गुजारा
सुमित साहसिया बिन तेरे कोई ओर ना सहारा
मैं आप गढ़े में पड़ रह्या सु तेरे गढ़े भरके ने

अन्य भोजपुरी गाने :