गाल गुलाबी | Vinod Changia, Mohini Patel | Lyrics

पवन वर्मा और पिंकी शर्मा ने गाल गुलाबी गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई हैं। गाने में आवाज विनोद चंगिआमोहिनी पटेल ने दी हैं। अमित रोहिल्ला निर्देशित गाने के बोल पवन वर्मा ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक सपना स्टूडियो ने दिया हैं।

प्रेमिका के गुलाबी गाल देखकर प्रेमी की नियत बिगड़ रही हैं और आगे पीछे घूमते हुए उसे छेड़ रहा हैं।उसके दूध से गोरे रंग को देखकर चाँद भी शर्मा रहा हैं और उसके हुस्न के चर्च पुरे में फैले हुए हैं। दोपहर में भी वो घूमते हुए लोगो का लहू जला रही हैं। उसकी तिरछी नजर ने लोगो का दिल घायल कर रखा हैं।

Gaal Gulabi Song Lyrics

तेरे क्यों चमके गाल गुलाबी आज होठा में चुनी दाबी
किते चाहाला पड़ जागा
ना हांड्या डट डट कर तेरा रंग कल पड़ जागा

तेरी होरी नियत खराबी मेरी देखके चाल शराबी
तू इसपे टोक लगावेगा
दूध की तरिया देख मेरा रंग चाँद भी शर्मावेगा

क्यों फिरे भड़कती दोपहरी में गांव यो सर पर उठा राख्या
तेरी भोली भाली सूरत ने यो पूरा बिगन मचा राख्या
ना हांड्या डट डट कर तेरा रंग काला पड़ जागा

तेरी आंख्या में शर्म नहीं तेरे सारे जिकरे उड़े सै
मेरी जोबन का खजाना मीठी बात तू लुटे सै
मैं चीज नवाबी छोरी तू गेरे मेरे डोरे
कोई रासा छिड़वावेगा
दूध की तरिया देख मेरा रंग चाँद भी शर्मावेगा

तू लगे जलेबी मरजाणी तेरे मेरे गात का तू पाणी
राधेश्याम की लगे या जोड़ी इब तू मान जा तू शयानी
ना हांड्या डट डट कर तेरा रंग कल पड़ जागा

अन्य हरियान्वी गाने: