जाड़ा लागे सै | Ramesh Saini, Simran Rathore | Lyrics

हरियानवी एल्बम के नये गाने में आवाज रमेश सैनी और सिमरन राठौड़ ने दी हैं। जाड़ा लागे सै गाने के बोल योगेश जांगड़ा ने लिखे हैं। गाने में हैप्पी बरेलु और सपना अहम किरदार में नजर आएंगे। एच.एस.बीने गाने का म्यूजिक कम्पोज किया हैं।

सर्दी के दिनों में ठण्ड के वजह से साजन शरीर का थर थर कांप रहा हैं और वो अपनी सजनी की ओर जा रहा हैं। बदनामी के डर से सजनी उसे अपने पास आने नहीं दे रही हैं। सजनी को जवानी को देखकर साजन का मिजाज गड़बड़ा रहा हैं।

Jada Lage Se Song Lyrics

मेरा थर थर कांपे गात जुखाम यो ठाडा लागे सै
तू ले बुख़ल में बहुत छाया रे मैंने जाड़ा लागे सै
मेरा थर थर कांपे गात जुखाम यो ठाडा लागे सै

मैंने बोलण जोगी ना छोड़े यो फाला हो जागा
तने क्यों कर लेलू बुख़ल में मुंह कला हो जागा

ना डरपे सुनले बावली माडा नहीं यो काम
देवे जो तू मैंने कुमाई मिले थोड़ा आराम

तेरा जोबन का रे मैंने थोड़ी गाड़ा लागे सै
मेरा थर थर कांपे गात जुखाम यो ठाडा लागे सै

ना कर इसा काम जले कदे हो जागी बदनामी
लुखमा छुपमा करया ना करे हां करते सबकी सामी
जे पकड़े जागे जान मेरी तो चहाला हो जागा

करदे तू गर्मास बावली मेरे भीतर में
ठाडा चाहिए ताप मैंने जणू आ रहिये हीटर में
मेरा जम रहया सै खून मैं गाड़ा लागे सै

अन्य हरियान्वी गाने: