जम्फर | Raju Punjabi | Lyrics

हरियान्वी एल्बम का जम्फर, जो की एक मजेदार सॉन्ग हैं, इसमे आवाज राजू पंजाबी ने दी हैं। गाने के बोल विनय ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक वि.आर ब्रोस ने दिया हैं। मेहर रिस्की व शिखा चौधरी ने इस गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई हैं। इस गाने के निर्माता साहिल ख़ान हैं।

गुलाबी जम्फर और काली चुन्नी ओढ़के गौरी आशिको का लहू जला रही हैं। रंग उसका गौरा और नजर जुल्फी हैं। कोई उसके लिए ठंडा ला रहा हैं तो कोई उसके लिए कुल्फी लेकर आ रहा हैं। उसकी तिरछी नजर ने आशिको का दिल घायल कर दिया हैं और आशिको को इग्नोर कर रही हैं।

Jumphar Song Lyrics

सुण छोरी नखरे आली गुलाबी जम्फर चुन्नी काली
तू ओढ़के चुन्नी काली काली कित चाली

रंग तेरा सै गौरा गौरा नजर तेरी सै जुल्फी रे
कोये ल्यावे तेरे खातिर कोई ठंडा रे कोई कुल्फी रे
मत इग्नोर किसी ने चाल तेरी मतवाली
तू ओढ़के चुन्नी काली काली कित चाली
सुण चोरी नखरे आली गुलाबी जम्फर चुन्नी काली

मेरे दिल की धड़कन रुकगी तीर चलादी सांसा के
विनय तू कहके देखले ढेर बिछादे लाशा के
तू ओढ़के चुन्नी काली काली कित चाली
सुण चोरी नखरे आली गुलाबी जम्फर चुन्नी काली

अन्य हरियान्वी गाने भी देखे :