कसूती भाभी | Salim Dhundhwa | Lyrics

बृजेश लडवाल द्वारा निर्देशित हरियान्वी एल्बम सॉन्ग कसूती भाभी में आवाज सलीम ढूंढवा ने दी हैं। इस गाने के बोल अमीन उझाना ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक देसी ब्रॉस ने दिया हैं। वतन इंदोरा और हिमांशी गोस्वामी ने इस लेटेस्ट गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई है।

सफेद सूट पहनकर गौरी आशिक का लहू जला रही हैं और कई आशिक उसका पीछा करने में लगे हुए हैं। जब सज धज सोलहा श्रृंगार करके गौरी अपने से बाहर निकलती हैं और उसे देखने के लिए बच्चे से लेकर बूढ़े तक को कतार लग जाता हैं। उसके हुस्न का हर कोई दीवाना हैं और सब इच्छा उसे अपनी रानी बनाने की हैं।

Kasuti Bhabhi Song Lyrics

धोले सूट पर मैच करेगी बैरण चुन्नी नाभि
मेरे यारे प्यारे नु कहगे तेरे ल्याके कसूती भाभी

ओला ओला कर लिया कर तू मारया कर ना ठाटा
शिखर दोपहर में कोये मर जावेगा डाका
कदे होजा जान ने शाखा
मेरे यारे प्यारे नु कहगे तेरे ल्याके कसूती भाभी

तेरे हुस्न का मालिक ने रे फाड़ दिए से चहाले
चंद्र माँ सी शान तेरी टिका काला करवाले
मेरे ते हंस बतलाले करदूंगा ठाठ नवाबी

अन्य हरियान्वी गाने :