मटक मटक चाले | Moninder, Ompal, Sonu | Lyrics

हरियानवी एल्बम मटक मटक के चाले का लेटेस्ट सॉन्ग लॉन्च कर दिया गया है। सॉन्ग को मोनिंदर कौर, ओमपाल लॉट, सोनू सिंघानिया ने गाया है। मटक मटक चाले एक रोमांटिक सॉन्ग है, जिसे ओमपाल लॉट ने लिखा है | सॉंग देखने के लिए वीडियो क्लिक करे |

Song: Matak Matak Chale Haryanvi song
Singer: Moninder Kaur,Ompal Lot,Sonu Singhaniya
Music: Chintu Panchal
Album: Matak Matak Ke Chale
Lyrics: Ompal Lot

Click to watch Matak Matak Chale Haryanvi song NOW in full HD.

Matak Matak Chale Song Lyrics

ुबह शाम तू बन ठन के ना आवे म्हारे गाल में x2
खड़े रहेवे से बाट में तेरी शिकारी दोपहरी गाल में
ना आन्दी जांदी ने टोक मैं नू आउ जाउगी x2
के तेरे बाप की गाल से मैं नू गाड़े हिलाउगी

बात तू सुनले छोरी मेरी उड़े ना घनी बहाल में x2
कोई शिकारी लेगा तने फसागे जाल में

इतनी भोली कोना जो हाथ किसी के आउगी x2
डरता कोनी किसी साले से मंन मर्ज़ी मैं चाहुगी

जब तू आवे बन ठन के छाती चाले तड तड के शिकारी खड़े गाल में
तू उड़े ना बाहर में जब तू होके तेयार छोरा की हो टकरार तेरे पीछे
गाड़े मारे मैने ना मानी छोरी हार ओक भाई तेरा यार करे से तेरे से प्यार

अरे मटक मटक ना चला कर खोल छोड़े रे बाल रे x2
तेरी कसम मैने भुंडी लागी तेरे पे तेरी चाल रे

ओमपाल मैं समझगयी तेरी गेला आउ मैं x2
मैं तेरे पास आके ब्याह तेय करउगी

हरियानवी नये गाने हो या हो एल्बम के गाने, Haryanvisong.in लेकर आए है हरियानवी एंटरटेनमेंट का मजेदार मसाला |