नशा | Shrichand Sharma , Archna Sinha | Lyrics

श्रीचंद शर्मा और अर्चना सिन्हा की आवाज़ में नशा हरियानवी गीत सोनोटेक कैसेट्स में प्रस्तुत़ हुआ हैं। इस गीत के बोल अशोक मारोट ने लिखे हैं और म्यूज़िक के.जी सिंह ने की हैं। के.जी सिंह द्वारा निर्देशित इस गाने में सोनम तिवारी, निशांत शर्मा, यश शर्मा और श्याम सोनी अहम किरदार में नज़र आएँगे।

लड़की के रूप रंग को देखकर कई आशिक उसके दीवाने हो गये हैं और उसके आगे पीछे घूम रहे हैं। उसकी चन्द्रमा सी शान और कंचन काया हैं। उसके नैन कटीले आशिको के दिल में तीर की तरह चुभ रहे हैं। उसके काले काले रेशमी बाल और ढोड़ी पर तिल काला हैं। उसके बिना आशिको का जीना मुश्किल हो गया हैं।

Nasha Song Lyrics

एक लांबी सुथरी छोरी मटकाती पोरी पोरी
हाय चंद्र माँ सी शान ती उसकी कंचन काया कोरी
नैन कटीले दिल के तिरछे मार रही रोज
एक बोतल तो पवे के नशा उतारती यारो

अरे काले रेशमी बाल ते उसके ढोड़ी पे तिल काला
अलवार खजूरी मैं गड रह्या था सूट आले का गला
फुल्का की चुन्नी उतार के तू तार के राखी यारो
एक बोतल तो पवे के नशा उतारती यारो

अरे जोबन में भरपूर हुई वा करली जी ने साचा
हिन्दोरी के मार गई वा खिलके लेवे लाखा
मेरा जीना मुश्किल होगया अरे कार गई यारो
एक बोतल तो पवे के नशा उतारती यारो

अन्य हरियान्वी गाने :