पप्पू की बहू | KK Haryanvi, Sheenam Kaitholic | Lyrics

हरियान्वी एल्बम के न्यू सॉन्ग में आवाज के.के हरयाणवीशीनम कैथोलिक ने दी हैं। पप्पू की बहू गाने के बोल ऐ.टी.पी.के ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक डी.एस नरवानिया ने दिया हैं। ऐ.टी.पी.के व पूजा पंजाबन ने इस गाने में अपनी अहम भूमिका निभाई हैं।

गौरी सारा दिन सज धजकर अपने आप को शीशे में निहारती रहती हैं और पिया उसकी इसी आदत से परेशान हो चुका हैं। वही गौरी अपनी पिया पर शक करने लगी हैं और उसका पीछा करने लगी हैं। जब पिया किसी भी लड़की को देखता हैं तो गौरी उससे गुस्से से डाटने लग जाती हैं।

Pappu Ki Bahu Song Lyrics

सारा दिन रहवे सिंगरी जलावे लहू
पप्पू के हाथा ते जालिया पप्पू की बहू

ओ मारी जाऊ बोली ने क्यों कर सहु
स्याणी घणी सै पप्पू की या बहू

यो पप्पू ने तेरे पे लागे होरिया सै घणा टाऊट रे
तू देखे छोरिया की कानि पप्पू घर ते आउट रे
तू दिखे परिया वरगी बीन तेरे कैसे रहू
पप्पू के हाथा ते जालिया पप्पू की बहू

पप्पू ने पप्पू पास करिया प्यार करे सै गाठा रे
पीहर भी ना जावन देता आवे सै जब जाड़ा रे
ओ राजी राखे रात दिन मैं साची कहु
स्याणी घणी सै पप्पू की या बहू

अन्य हरियान्वी गाने भी देखे :