रात तो अपनी है | Sachin Bhardwaj | Lyrics

मुर्गा खा के हरियान्वी एल्बम का गाना रात तो अपनी हैं लॉन्च कर दिया गया है। सॉंग्स में आवाज सिंगर सचिन भारद्वाज ने दी है। सॉन्ग के लिरिक्स भी सचिन भारद्वाज ने लिखे हैं | म्यूज़िक कोकिला स्टूडियो रोहतक ने दिया हैं |

Song: Raat To Apni Hain
Singer: Sachin Bhardwaj
Album: Murga Kha Ke
Lyric: Sachin Bhardwaj
Music: Kokila Studio Rohtak

Click to watch Raat To Apni Hain Haryanvi song from album Murga Kha Ke NOW in full HD.

Raat To Apni Hain Song Lyrics

कोई मुर्गा शुरगा खाके दारू का पेग लगा के x2
बियर दे पेटी लेक x2 असी सेट होज़ा ने
रात तो अपनी है x4

मौसम से रागिन घना पीने का से शौक चढ़ा आज ना रोको कोई मैने आज ना टोको कोई मैने
पीनी से दारू आज सारी मैने दारू पीने बाद में डीजे भी चाहिएगा डीजे पे गाना दारू वाला चाहिएगा
आज किसी का डर भी कोना पापा मम्मी भी घर पे कोना

{अरे खोल के बोतल दारू की यो तो पिगये सारी
देखो कसे टली होरे दिकत होगी भारी} x2
इब एक हाथ में बोतल एक हाथ में सूटा नाचे येतो डीजे पे मार के सूटा
इब होरे से फूल मस्ती में फूल टोर में
रात तो अपनी है x4

एक तू है वली उपर से अकेली दारू पी कर तू बिल्कुल टली
मुझको एक बात बता घर कसे जाएगी सुबह के बजे हें 4 उपर से तू लाचार
मारी बात मान तू आज रात यही पे रुक जा माना हें खराब
और उपर से तू बिल्कुल जवान तू मुझको ऐसा वेसा ना समझे मैं छोरा हू हरियाणा का
रेस्पॅक्ट करता हू मैं हर एक लड़की का सुबह होते तुझे घर छोड़ आउगा
जा जा आराम कर एंजाय मुझे करने दे

अरे आजाओ सारे मुण्ड बना के डीजे पे बोतल चढ़ा के x2
रात तो अपनी है x4

लेटेस्ट हरियान्वी गानो को देखने के लिए हमेशा याद रखे Haryanvisong.in.