रूप नशीला | Shakti Banna | Lyrics

शक्ति बन्ना की आवाज़ में रूप नशीला हरियानवी गीत अल्का म्यूजिक में प्रस्तुत़ हुआ हैं। इस गीत के बोल विवेक शान ने लिखे हैं और म्यूज़िक कंपोजिंग एम.आर स्टूडियो ने की हैं। गाने में दिनेश कुमार, शक्ति बन्ना और आरती शर्मा अहम किरदार में नज़र आएँगे।

छोरी के रूप नशीले को देखके छोरे उस पर फ़िदा हो रहे हैं और उसे अपने में दिल में बसा लिए हैं। आँखों पर काला चश्मा लगाके मरजाणी अलग ही नजर आती हैं और उसके मोटे मोटे नैन आशिको के दिल पर जादू कर रहे हैं। भरी जवानी और उसकी गजब चाल देखकर लडको का दिल धक धक करता हैं।

Roop Nashila Song Lyrics

तेरा रूप नशीला देखके ओ छोरी मैं तो मरग्या रे
मेरे दिल में बसगी मरजाणी यु नशा तेरा चढ़ग्या रे

आंख्या पे चश्मा काला तू लागे हूर निराला रे
देखके मरजाणी तेरे पे दिल सै मेरा आया रे
तेरे मोटे मोटे नैणो का ये तीर का कसुता चलग्या
मेरे दिल में बसगी मरजाणी यु नशा तेरा चढ़ग्या रे

भरी जवानी छोरी तेरी चाल गजब की चाले सै
जब भी तने देखू गौरी मेरा काळजा हाले सै
मेरे दिल में बसगी मरजाणी यु नशा तेरा चढ़ग्या रे

अन्य हरियान्वी गाने: